X Close
X

पत्रकार को धमकी देने पर WJF दिल्ली ने DCP से की मुलाकात


नई दिल्ली। विश्व पत्रकार महासंघ दिल्ली प्रदेश WJF ने पहाड़गंज निवासी पत्रकार मणि आर्य को बिल्डर व उसके बी सी गुर्गे द्वारा जान से मारने व गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी देने पर पुलिस द्वारा की जा रही लापरवाही की निन्दा करते हुए मध्य क्षेत्र के डी सी पी संजय भाटिया व एडिशनल DCP रोहित कुमार मीणा से मिलकर दोषी आरोपियों पर एफ FIR करके तुरंत गिरफ्तारी की मांग की है।

गौरतलब है कि मंदिर की भूमि पर फ़र्ज़ी दस्तावेजों के बल पर बिल्डर द्वारा 1669/18 खसरा नंबर 404/2 बराही माता मंदिर,चित्र गुप्ता रोड,पहाड़गंज में किये जा रहे अवैध निर्माण का समाचार मणि आर्य ने जनहित में प्रकाशित करके स्थानीय जनप्रतिनिधियों व निगम और पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाये थे जिसके बाद निगम ने कार्रवाई करते हुए अवैध निर्माण का एक फ्लोर तोड़ कर खाना पूर्ति कर दी जबकि टीन शेड की आड़ में चल रहे अवैध निर्माण पर कई बार निगम अधीकारियों द्वारा चिपकाये गए वर्क स्टॉप नोटिस, डेमोलिशन आर्डर नोटिस व सीलिंग नोटिस के बाद भी अवैध निर्माण स्थानीय पुलिस व निगम अधिकारियों की मिलीभगत व स्थानीय जनप्रतिनिधि के दवाब में चलता रहा और देखते ही देखते चार मंजिला अवैध निर्माण करके ईमारत खड़ी हो गयी। इसकी सूचना जब पुलिस कंट्रोल रूम को कई बार दी गयी।
मणि आर्य ने नागरिक कर्तव्य को निभाते हुए इस पूरे खेल की शिकायत पुलिस,निगम,महापौर,एस डी एम,दिल्ली प्रदूषण समिति और मॉनिटरिंग कमेटी समेत उपराज्यपाल को कर दी जिसके बाद बिल्डर ने उनको घर आकर धमकी दी जिसकी सीसीटीवी फुटेज से पुष्टि होती है बावजूद इसके स्थानीय पुलिस थानाध्यक्ष ने बिल्डर से हाथ मिलकर पत्रकार मणि आर्य पर दवाब बनाना शुरू कर दिया।

अब विश्व पत्रकार महासंघ दिल्ली प्रदेश ने पुलिस कमिशनर और गृह मंत्रालय,पीएमओ में शिकायत दर्ज़ कराने और बिल्डर व उसके गुर्गों पर सख्त कार्रवाई की मांग को लेकर बैठक बुलाई है, जिसमें पुलिस की मिलीभगत और बिल्डर्स पर कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शन व प्रधानमंत्री व गृह मंत्री को ज्ञापन सौंपने की रुपरेखा पर चर्चा की जाएगी।

अभी मध्य जिला पुलिस के डीसीपी संजय भाटिया व एडिशनल डीसीपी (द्वितीय) रोहित कुमार मीणा व सहायक पुलिस आयुक्त ओम प्रकाश लेखवाल के आश्वासन पर कार्रवाई होने का इंतज़ार विश्व पत्रकार महासंघ,दिल्ली प्रदेश अभी कर रहा है। अगर पुलिस ने एफ आर आर दर्ज़ करके तुरंत बिल्डर्स और उसके गुर्गों को गिरफ्तार नहीं किया तो आगे बड़ा आंदोलन अन्य सभी सहयोगी पत्रकार संगठनों को साथ लेकर करने की तैयारी पर भी मंथन चल रहा है।

Legend News