X Close
X

मांझी का दावा, लालू ने जेल से ही उन्‍हें सीएम बनाने का दिया था ऑफर


पटना। बिहार में नवगठित NDA की सरकार को गिराने की कोशिश के तहत राष्‍ट्रीय जनता दल RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के फोन कॉल को लेकर एक और नया दावा सामने आया है। यह दावा किया है हिन्दुस्‍तानी आवाम मोर्चा HAM के अध्‍यक्ष जीतन राम मांझी ने।
‘हम’ प्रमुख मांझी ने दावा करते हुए कहा कि लालू यादव ने जेल से ही उन्हें मुख्यमंत्री बनाने का ऑफर दिया था। साथ ही लालू ने हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के सभी विधायकों को आरजेडी की सरकार बनने पर मंत्री बनाने का ऑफर भी दिया था।
जीतन राम मांझी ने एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा कि आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने जेल से ही उन्हें कई बार ‘चारा’ डालने की कोशिश की। लालू यादव ने दर्जनों बार उनसे संपर्क किया और महागठबंधन के लिए समर्थन मांगा। समर्थन के बदले में लालू ने उन्हें जेल से ही मुख्यमंत्री बनाने का ऑफर दिया। मांझी ने कहा कि लालू ने उसने कहा कि अगर वो एनडीए को छोड़कर वापस महागठबंधन में शामिल होते हैं तो उन्हें मुख्यमंत्री बनाया जाएगा और ‘हम’ के सभी विधायकों को मंत्री।
सुशील मोदी और लल्लन पासवान के लालू पर लगाए आरोप 200% सच: मांझी
हिन्दुस्‍तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष मांझी ने कहा, “लालू रांची में जेल के अंदर बैठकर राजनीति कर रहे हैं। यह गलत मिसाल है। मैं इस मामले की जांच की मांग करता हूं। लालू ने मेरी पार्टी के विधायकों से भी चुनाव के बाद संपर्क किया और उन्हें मंत्री पद का लालच दिया।” मांझी ने कहा कि सुशील कुमार मोदी और भाजपा विधायक ललन पासवान ने लालू प्रसाद के खिलाफ जो आरोप लगाया है, वह 200 प्रतिशत सच है।
लल्लन पासवान ने बताया लालू यादव से फोन पर हुई बात
बीजेपी विधायक लल्लन पासवान ने बताया कि मंगलवार शाम छह-साढ़े छह बजे के करीब फोन लालू यादव का फोन आया। मैं खुश था कि उनका फोन आया लेकिन उनकी बातें सुनने के बाद मैं हैरान रह गया। उन्होंने दावा किया कि लालू यादव ने उन्हें रांची से फोन कर स्पीकर चुनाव में सदन से गैरहाजिर रहने को कहा। इतने बड़े नेता लोकतंत्र की हत्या करने के लिए कैसे कह सकते हैं। इसके बाद उन्होंने बीजेपी के दिग्गज नेता सुशील मोदी को पूरे मामले की जानकारी दी। उन्होंने नंबर मांगा और जब नंबर कॉल की गई तो फोन लालू यादव ने ही उठाया।
-एजेंसियां

Legend News